मध्य प्रदेश के प्रमुख राजवंश | परिव्राजक वंश | Major Dynasties of Madhya Pradesh | parivrajak dynasty

परिव्राजक वंश के सत्ता सूर्य का उदय तो पन्ना में हुआ था, किन्तु इस वंश की सत्ता पूरे बुंदेलखण्ड तक व्याप्त थी
परिव्राजक वंश का पहला राजा देवादय था
प्रभंजन, दामोदर और हस्तिन उसके उत्तराधिकारी हुए जिनमें हस्तिन सर्वाधिक प्रतापी राजा था
हस्तिन ने 475 से 517 ई. तक शासन किया था
हस्तिन का उत्तराधिकारी उसका पुत्र संक्षोभ हुआ
बैतुल एवं खोह से प्राप्त तामपत्रों के अनुसार संक्षोभ ने डाहल क्षेत्र पर शासन किया

Leave a Comment